Logo se baat karne ka tarika | logo se kaise baat kare?

logo se baat kaise kare, logo se kaise baat kare, logo se baat karne ka tarika

दोस्तों एक तरफ ऐसे लोग होते है जो की लोगों से अच्छे से घुल मिल जाता है सब कुछ अच्छे से मैनेज कर लेता है वहीं दूषरी तरफ ऐसे लोग होते है जो की ये सब नहीं कर पाते। पहले कैटेगरी के लोग ऐसा इसलिए कर पाते है क्योंकि वह लोग दूसरों से बात करने में बड़े माहीर होते है। लेकिन दूसरे कैटेगरी के लोग (आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे हो मतलब आप इसी कैटेगरी से belong करते हो) डरते है की यार "मेरी कही गई बातें सामने वाले पर क्या असर करेगा" इत्यादि सोच कर अपने बातों को आपने बिचारों को लोगों के सामने सही से नहीं रख पाते।

अगर आपको लोगों से बात करने में दिक्कत होता है तो आप बिल्कुल सही जगह पर है, आज इस आर्टिकल के जरिए में आपकी सारी झिझक, सारे डर निकल ने वाला हूं। जिससे आप एक अच्छे सामजिक जीवन का निर्माण कर सकेंगे। 

Logo se baat karne ka tarika | Logo se kaise baat kare:

दोस्तों अगर आप एक अच्छे सामजिक जीवन चाहते है, actually ये सिर्फ सामजिक नहीं एक अच्छे प्रोफेशनल लाइफ पाने के लिए भी आपको ये कला आना चाहिए। तो आगे इसी बारे में बिस्तार से बात करने वाले हैं आप आर्टिकल को लास्ट तक पढ़ीएगा। 

1. कॉन्फिडेंट रहे:

कोई भी बातचीत शुरू करने के लिए आप में आत्मविश्वास का होना बहुत जरूरी है। क्योंकि बिना आत्मविश्वास के आप किसी से अच्छी तरह से बात नहीं कर सकते। तो लोगों से बात करते वक्त आपने अंदर के आत्मविश्वास को जगाएं। 

मान लो की आप रास्ते से जा रहे इतने में रास्ते से जा रही एक लड़की आपको अच्छी लगती है, या कोई लड़का खैर कोई भी हो मतलब आपको ऐसा लगा की उससे बात करनी चाहिए तो ऐसे में खुदको मत रोकिये।आप ये मत सोचिए की "कोई गलती हो गया तो?" इसके बजाय आप ये सोचिए की "चल बात शुरू करते है, अगर कोई गलती होती है तो आगले sentence से उसे सही कर देंगे" में भी ऐसा ही करता हूँ। 

2. ओवर थिंकिंग से बचे:

कई बार क्या होता है की बातचीत शुरू करने से पहले हम ओवर थिंकिंग कर बैठ ते है और जिसका फल स्वरुप हम सामने वाले से ढंगसे बात नहीं कर पाते, अपने आपको उनके सामने अच्छे से एक्स्प्रेस नहीं कर पाते। 

अब ऐसा भी नहीं की ये सिर्फ आपके साथ होता है, मेरे साथ भी होता है कभी कभी, हर किसीके साथ है। जाहिर सी बात की हम इंसान है गलती सभी से होता है। हमे बस ओवर थिंकिंग को कंट्रोल करना होता है, अपने आप को डाइवर्ट करना होता है। तो नेक्स्ट टाइम ओवर थिंकिंग आये ना तो अपने ध्यान को दूसरी तरफ लगाये मतलब आस पास की चीजों की तरफ ध्यान लगा सकते है। 

3. बॉडी लैंग्वेज सही रखे:

जब आप लोगो से बात करते हो तो ऐसे में आपका बॉडी लैंग्वेज बहुत मैटर करता है। और कई बार तो सही बॉडी लैंग्वेज की वजह से आप मोटिवेटेड भी महसूस करते है मतलब करेंगे। मेरे साथ कई बार ऐसा हुआ है मतलब कई बार जब में नर्वस होता था तो में अपने बॉडी लैंग्वेज को एकदम पॉजिटिव कर लेता था, और अभी भी करता हूं। अब इसके लिए आपको अपने back straight रखना है, गर्दन सीधी रखनी है, कंधे को ढीला ढला नहीं टाइट करके chest up करके रखना है। और पॉकेट में हाथ डालना कोई क्लोजिंग बॉडी लैंग्वेज ऐसा कुछ नहीं है मस्त अपकी मर्जी है। 

अपने चेहरे पे स्माइल छोटी सि स्माइल जरूर रक्खें। स्माइल एक बहुत ही कूल चीज़ है जिससे पॉजिटिवीटि झलकती है जो लोगों की ध्यान आपकी तरफ खीचता है। स्माइल में एक purity होती है जो सबको अच्छा लगता है।

4. अपने स्वर का ध्यान रक्खे:

दोस्त किसी से बातचीत के दौरान आपके Tune of voice बहुत ज्यदा impect करता है। कई बार कई लोग अपने कमजोर वॉयस को वजह से इग्नोर करदीया जाता है, rough voice tune की वजह से लोग उससे बाते करना पसंद नहीं करते चाहे वो बन्दा कितना अच्छा ही क्यों ना हो। Actually आज के टाइम में ये बहुत ज्यदा मैटर करती है पर्सनल से लेकर प्रोफेशनल लाइफ हर जगह मतलब वॉयस कंट्रोल आपको आना ही चाहिए। 

तो चलिए आब देख लेते की क्या करे जिससे हमारी Voice tune एकदम सही हो जाये, आपने कंट्रोल में आ जाये:

  • डेली पढ़ने की आदत डाले और जोर जोर से पड़े। ऐसा करने से आपका उच्चारण और क्लियर होता है। Voice में एक पॉवर आता है।
  • ओम chanting प्रैक्टिस करे डेली। ये Vocal प्रैक्टिस लॉन्ग रन में ये आपके Voice tune को कंट्रोल करने में मदद करेगा। 
  • जब भी आप किसी से बात करो तो थोड़ा पेस देने की कोशीश करो, थोड़ा लाउड बोलने की। और एक बात आपने गले से बात मत करो, stomach से बात करो एक साउंड अंदर से आनी चाहिए।

5. Hi hello या कोई प्रश्न से बातचीत शुरू करे:

Hi या Hello से greeting जरुर करे। ऐसा करने से बात करने कि शुरुवात हो जाती है और इसके ही साथ आप बात को आगे भी बढ़ा सकते है। वैसे तो किसीसे बातचीत करने के कई रास्ते है लेकिन ये दो रास्ते जिसे सबसे badhiya माना जाता है। तो अगर आपको किसी से बातचीत शुरू करनी है तो कोई प्रश्न पूछ कर शुरू कर सकते है। लेकिन आपको इस बात का भी ध्यान रखना है की आप लिमिट में प्रश्न पुछे, creep नहीं बनना है आपको। 

6. Straight forward बाते करे:

बातचीत को सहज रखने की कोशिश करिये सिंपल जैसे नॉर्मल बातचीत होती है ना वैसे ही। कोई जटिल सब्दो या वाक्यों के प्रयोग की कोई जरूरत नहीं। जितना हो सके straight forward बाते करिये क्योंकि आजकल कोई भी घुमा फिरा कर बातें पसंद नहीं करता। बातों को घुमा फिरा कर बोलने से सामने वाला bore हो सकता है, awkward फील कर सकता है। इसलिए straight forward बाते करिये। 

7. उनको भी सुने:

देखीये एक बातचीत का मतलब होता है की आप कुछ बोले, सामने वाले भी बोलने दें उनकी बाते भी सुने। लेकिन कई क्या करते है की बस खुद बोलते रहते है, दोस्त अगर आप भी ऐसा करते हो तो ऐसा करने से बाज आएं। जब आप सामने वाले बोलने का मौका देते हो तब उसे लगता है यार ये मेरी बातों की कदर करता है, इसके लिये मेरे point of view मैटर करता है।  तो वो सामने वाला इंसान आपसे आकर्षित होता है। आपके लिये उसके दिल में एक जगह बन जाता है। 

अन्य पढ़ें –

 सकारात्मक सोच कैसे लाये
 सोच बदल देने वाला मोटिवेशनल स्पीच इन हिंदी
 अपने Emotions को कैसे कण्ट्रोल करे

तो दोस्तो आज के आर्टिकल में हमने लोगों से कैसे बात करे इसके बारे में कुछ टिप्स शेयर किये है जो की definitely आपके बोहोत काम में आने वाला है। तो इन बताए गए टिप्स अच्छे से फॉलो करे और बातचीत के दौरान उपयोग करे। आशा करते है आज का ये आर्टिकल अच्छा लगा, अगर आपका कोई दोस्त है जिसको लोगो से सही बात करना नहीं आता मतलब वो शर्मा ता है या डरता है तो उससे ये आर्टिकल शेयर कर सकते है। ऐसे ही interesting और हेल्प फूल आर्टिकल्स डेली पाने के लिए हमे Subcribe करे, एक ब्लू बाले आइकन दिख रहा होगा वहां क्लिक करे।

🔍 logo se baat kaise kare, logo se kaise baat kare, logo se baat karne ka tarika

और हां आप चाहे तो हमारे ऑफिसियल @फेसबुक पेज पर जुड़ सकते हैं डेली मोटीवेशनल थोटस के लिए इसके अलावा वहां आपको कई लेटेस्ट अपडेट्स भी मिल जाया करेगा। 

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box