आलस्य कैसे दूर करे | How to Overcome Laziness in Hindi

आलस्य कैसे दूर करे, How to Overcome Laziness in Hindi

दोस्तों आलस इंसान का सबसे बढ़ा दुश्मन होता है जो की उसे ज़िन्दगी में आगे बढ़ने से रोकता है। जी हाँ, सफलता पाने के रास्ते में जो सबसे बड़ा पत्थर है वो आलस्य ही है। तो अगर किसीके जिन्दगी में सफल होना है तो आपको इस आलस्य नामक दुश्मन को खतम करना होता है। आज जितने भी सारे सक्सेसफुल लोगों को आप जानते हो उनमेसे कोई भी आलसी नहीं है, क्योंकि अगर आलसी होते तो आज इस मुकाम पर नहीं होते। तो अगर आपको जिंदगी में Successful होना है तो आपको भी इस आलस्य को जड़ से खतम करना पड़ेगा। 

आलस एक बार पीछे पड़ जाए तो इतनी आसानी से पीछा नहीं छोड़ता, ये इंसान के अंदर से काम करने की एनर्जी सोख लेते है। तो इसलिए आज के आर्टिकल में हम "आलस्य कैसे दूर करे" इस बारे में बात करने वाले हैं। लेकिन आलसीपन दूर करने के लिए सबसे पहले ये हमको जानना जरूरी है की आलसीपन क्या है? और वो क्या क्या कारण है जिसकी वजह आलसीपन हमारे पीछे पड़ जाते है। 

Table Of Contents
                        3.1. अच्छे से नींद लिया करे
                        3.2. Goal सेटिंग जरूरी है
                        3.3. काम को मत टाले
                        3.5. डिस्ट्रक्ट्शन से बचे
                        3.7. सुबह सुबह उठ जाया करिये
                        3.8. व्ययाम की आदत डालें

आलसीपन क्या है?

आलसीपन एक ऐसी स्थिति है जब आपको कुछ करने का मूड नहीं होता। आपको कोई भी काम करना अच्छा नहीं लगता, मुस्किल लगता है। आपको बस मन करता है कोई फ़िज़िकल एनर्जी नष्ट ना करते हुए पड़े रहने का। 

आलस क्यों आता है?

1. जिंदगी में कोई लक्ष्य ना होना: अगर किसीके लाइफ में Goal ना हो तो उस बंदे का आलसी होना कोई surprising बात नहीं। क्योंकि Goal एक ऐसा चीज़ है जो किसीको भी काम करने का motivation देती है। 

2. मोटिवेशन की कमी: मोटिवेशन के बिना भी काम पुरा नहीं किया जा सकता। तो अगर बंदा मोटिवेशन की कमी महसूस करता है तो वो काम शुरू करने का एनर्जी नहीं ला पाता एंड धीरे धीरे आलसी बनता जाता। 

3. फैल होने का डर: ये एक बहुत बुरी चीज़ है जो इंसान को काम शुरू करने ही नहीं देता। क्योंकि जब किसी में फैल होने डर रहता है तो वो काम करना शुरू ही नहीं करता, ऐसे में और क्या बस पड़े रहते है आलसी बनते जाते है। 

4. डिस्ट्रक्ट होना: ज्यदातर cases में पाया गाया है की डिस्ट्रक्ट्शन सबसे बड़ा कारण है आलसीपन का। और आज कल का डिस्ट्रक्ट्शन मतलब कोई काम करते करते एक Notification आया सोशल मीडिया से बस अपना काम छोड़ छाड़ के *अच्छा भाई अब में चलता हूं बोलके बस चल दिये। 

5. लाइफ स्टाइल का सही ना होना: कई बार लाइफ स्टाइल का सही ना होने की वजह से आलस आता है। कई सारे ऐसे बुरी आदत होती है जो हम अपने लाइफ स्टाइल में डाले होते है जैसे देर रात तक मोबाइल पे लगे रहना, सोशल मीडिया पे हर वक्त स्क्रोल करते रहना इत्यादि जिसकी वजह से काम पे मन नहीं लगता और हम आलसी बनते जाते है। 

आलस्य कैसे दूर करे | How to overcome Laziness in hindi

आलस्य कैसे दूर करे tips

दोस्तों अगर आप आलसीपन को दूर करना चाहते है और एक सक्सेसफुल पर्सन बनना चाहते है तो नीचे दिये गए टिप्स को ध्यान से पढ़ीये। 

1. अच्छे से नींद लिया करे:

बात बड़ी सिंपल सी है अगर आप देर रात तक मोबाईल पे लगे रहे, तो नहीं पुरा नहीं होगा और ऐसे में दिन भर लो एनर्जी की दौरान आपको कुछ करने का मन नहीं करेगा। शरीर को सही से रेस्ट दिया करो यार नहीं तो आलसीपन आपको कभी नहीं छोड़ने वाली। 

2. Goal सेटिंग जरूरी है:

दोस्तों आपने यहा बताए गए सारे टिप्स फॉलो कर लिए लेकिन ये वाला मिस कर दिया तो शायद ही आप laziness से छुटकारा पा सकोगे। देखिए सिंपल सी बात है आपके पास ऊर्जा लेकिन है लेकिन कोई लक्ष्य नहीं तो ऊर्जा किस काम की तो सीधी सी बात है की आपको आलस आपने चपेट में ले लेगा। तो दोस्त आपने लिए एक लक्ष्य निर्धारित करो। 

3. काम को मत टाले:

लोग अक्षर कल कल करेंगे बोल बोल के आज के काम टाल देते है। और ऐसा करते करते एक आदत सी बन जाती हर काम को टालने की। उनका कल कभी नहीं होता। इसलिए आप आपने आज के काम को कल के ऊपर मत छोड़ें, आज का काम आज ही करना है। 

4. किसी भी काम को बोझ ना समझे:

ज्यादातर लोग कई कमों को बोझ समझते है जिससे वो उसे शुरू ही नहीं करते। अगर कोई कठिन काम है तो उसे शुरू ही नहीं करते, और ऐसा करके आपने आपको आलसीपन के हवाले कर देते है। तो अगर आपको आलसी नहीं बनना तो किसी भी काम को बोझ ना समझे। 

5. डिस्ट्रक्ट्शन से बचे:

डिस्ट्रक्ट्शन कई तरह के होते है, जैसे काम के दौरान सोशल मीडिया से कुछ Notifications आना, दोस्तों के साथ बात करते करते घंटों बीता देना इत्यादि। जिसकी वजह से काम मिस हो जाता है। सबकी डिस्ट्रक्ट्शन अलग अलग होती है पहले उनको identify करे उसके बाद उसे जड़ से मिटा दे। 

6. प्रेरणादायक कहानीयां पढ़ें:

आलसीपन को दूर भागाने के लिए आपको हमेशा मोटिवेटेड रहना पड़ेगा। अब इसके लिए आप प्रेरणादायक कहानियाँ पढ़ें। क्योंकि जब आप किसी सक्सेसफुल पर्सन के बारे में पढ़ते है आपको पता चलता है की सक्सेस पाने के लिए उन्होंने कितनी मेहनत और Sacrifices किया। 

7. सुबह सुबह उठ जाया करिये:

सुबह जल्दी उठना एक अच्छी आदत है, इसके काफि सारे फाइदे है जो कि साबित किया हुआ है। Studies के अनुसार जल्दी उठने से हम ज्यदा productive ज्यदा रह पाते हैं, एनरजेटिक लगता है, हम ज्यदा efficient रह पाते है मतलब काम करने का स्पीड ज्यदा रहता है, सेहत अच्छा रहता है, और भी बहुत कुछ। 

8. व्ययाम की आदत डालें:

सुबह जल्दी उठने के साथ साथ व्ययाम करेंगे तो और भी अच्छा रहेगा। रोज सुबह व्ययाम करने से आपकी आलस छू मंतर हो जाएगी, छोड़ के भागेगी यकीन मानिए। और सिर्फ इसी कारण नहीं व्ययाम करिये भाई फिट रहिए और भी कई फायदे है इसके। 

अन्य पढ़ें –

 भोलापन कैसे दूर करे - How to stop being naive
 टाइम मैनेजमेंट कैसे करे
 क्रिएटिव कैसे बने - Simple ways to be creative

तो दोस्तों आज के आर्टिकल में हमने जाना की आलस्य कैसे दूर करे”। असल में आलसीपन एक ऐसी चीज़ है जो किसी आर्टिकल पढ़ लेने से, किसी वीडियो देख लेने खतम नहीं होगा जबतक आप अपना effort ना लगाए। तो आज कमेंट बॉक्स में लिखीऐ की *आज से आलसीपन और नहीं। 

अगर ये आर्टिकल आपको helpful लगी तो आपको उन आलसी दोस्तों से शेयर करिये और उनकी भी आलसीपन छुड़ाने में मदद करिये। ऐसे ही interesting और हेल्प फूल आर्टिकल्स डेली पाने के लिए हमे Subcribe करे, एक ब्लू बाले आइकन दिख रहा होगा वहां क्लिक करे।

और हां आप चाहे तो हमारे ऑफिसियल @फेसबुक पेज पर जुड़ सकते हैं डेली मोटीवेशनल थोटस के लिए इसके अलावा वहां आपको कई लेटेस्ट अपडेट्स भी मिल जाया करेगा। 

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box